इंजीनियरों को इस टीम की सूची मिली, जो बिजली बिल कम होने पर घर पहुंच सकती है: क्या-क्या जांच होगी

electric bill power cunsamption

इंजीनियरों को इस टीम की सूची मिली, जो बिजली बिल कम होने पर घर पहुंच सकती है: क्या-क्या जांच होगी

बिजली निगम ने कम बिजली खर्च करने वाले घरों के मीटरों की जांच शुरू कर दी है।
गोरखपुर विद्युत निगम ने ऐसे घरों की सूची बनाकर अधिशासी अभियंताओं को सौंप दी है।

Electricity Updates: बिजली निगम ने कम बिजली खर्च करने वाले घरों के मीटरों की जांच शुरू कर दी है। गोरखपुर विद्युत निगम ने ऐसे घरों की एक सूची बनाकर अधिशासी अभियंताओं को भेजी है। ऐसे उपभोक्ता का बिल हर महीने कम आता है और उनके घरों पर कनेक्शन का अधिक लोड है।

ऐसे मीटर अब जांच किए जा रहे हैं। साथ ही उनके मीटर की स्पीड को ट्रैक करने के लिए एक से दो मिनट का वीडियो भी बनाया जा रहा है। शुरुआत में, ऐसे कई मीटरों में भ्रष्टाचार हुआ है।
बताया जा रहा है कि निगम के वरिष्ठ अधिकारी खुद इसकी निगरानी कर रहे थे।
सूची बनाई गई है और अभियंताओं को दी गई है। क्षेत्र के जेई सहित मीटर रीडरों को अभियंताओं ने भेजना शुरू कर दिया है। इसके लिए विशिष्ट मीटर रीडर भी उपभोक्ताओं को फोन कर रहे हैं।

जांच क्या बताएगी?


शहरी अधीक्षण अभियंता लोकेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि मीटर जांच से पता चलेगा कि घरों में कितना बिजली का उपयोग होता है और उनके बिलों में कमी क्यों है? बिल बनाकर उपभोक्ताओं को भेजा जाएगा अगर रीडिंग कंज्यूम होगा। इसके अलावा, बाईपास बिल कम आता है अगर अधिक भार का कनेक्शन लिया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *