Ayodhya 22 january श्री राम मंदिर पूजा, प्राण प्रतिष्ठा

Ram Mandir Pran Pratishtha:

Ayodhya में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है।

इसी लिए Ayodhya में राम मंदिर के उद्घाटन की तैयारियां जोरशोर से चल रही है। इस प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर देशभर के कई गणमान्य व्यक्ति शामिल होंगे, जिनमें धार्मिक एवं आध्यात्मिक गुरुओं के साथ-साथ कई बड़ी-बड़ी फ़िल्मी हस्तियां, खिलाड़ी और बड़े-बड़े कारोबारी भी शामिल होंगे।

अयोध्या के इस नए राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 84 सेकंड का शुभ मुहूर्त निकाला गया है। ये मुहूर्त 22 जनवरी 2024 को 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड तक रहेगा। ऐसे में कई लोगों के मन में ये सवाल उठ रहा होगा कि आखिर मूर्ती स्थापित करने के लिए सिर्फ यही समय क्यों चुना गया है?

तो आइए हम आपको बताते हैं इसकी वजह…

आखिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए 22 जनवरी का दिन ही क्यों चुना गया?

हमारी हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान श्री राम का जन्म अभिजीत मुहूर्त, मृगशीर्ष नक्षत्र, अमृत सिद्धि योग और सर्वार्थ सिद्धि योग के संगम पर हुआ था। ये सारे शुभ योग 22 जनवरी 2024 को एक बार फिर से साथ होंगें। इसी वजह से अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के लिए ये सबसे आदर्श दिन बन जाता है।

अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को देखते हुए योगी सरकार ने 22 जनवरी को स्कूल और कॉलेजों की छुट्टी घोषित की है। इस दिन राज्यभर में शराब की बिक्री पर भी प्रतिबंध रहेगा।

अयोध्या में 16 जनवरी से ही शुरू हो जाएगा कार्यक्रम

राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का पूरा कार्यक्रम 16 जनवरी से शुरू होकर 22 तक चलेगा। Ayodhya में 16 जनवरी से रामलला पूजन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इसके बाद 17 जनवरी को श्रीविग्रह का परिसर भ्रमण कराया जाएगा और फिर उसके बाद गर्भगृह का शुद्धिकरण होगा। इसके बाद 18 जनवरी से अधिवास प्रारंभ होगा, जिसमें सुबह और शाम जलाधिवास, सुगंध और गंधाधिवास भी होगा।

Ganesha Plug & Play Energy Saving led Night Lamp with Plug 0.5w LED Light

Ayodhya Ram Mandir 7-Day Schedule


    ये भी जरूर पढ़ें:


    Leave a Comment